Top 10 Study tips: किताबे पढ़ते समय नींद क्यों आती है ?|उपाय ?|

Top 10 Study tips आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको उन सभी पहलुओं पर चर्चा करेंगे जिनके कारण हमें नींद आने लगती है.

नींद आने के सात प्रमुख कारण है –

आखिर किताबे पढ़ते समय नींद क्यों आती है ? क्या है उपाय ?

1 मानसिक थकान

2.शारीरिक थकान

3 . अरुचिकर विषय या पठन

4. मानसिक विश्राम में बाधा

5. ध्यान की स्थिति

6 . बैठने की शारीरिक स्थिति

7 . वैज्ञानिक कारण

8 . भय और तनाव

9 . नियमित अध्ययन का अभाव

10 . गलत आदते तथा खानपान

11 . नियमित अभ्यास की कमी

दोस्तों ,हर इंसान जिंदगी में इस समस्या से जरूर गुजरता है जब कभी हम पड़ने बैठते है हमारी आँखों में नींद आने लगती है कभी कभी तो हम सुबह मालूम करते है की हम कब सो गए थे । हमारे मन में इसका जवाब पाने की लालसा हमेशा से ही रहती है की आखिर कौन सी वजह है जिनकी वजह से हमें नींद आ जाती है । क्या ये एक बीमारी है या कोई मेरे शरीर में विकार । ये बात छोटे बच्चो से लेकर गहन अध्ययन में जुटे हर पाठक के मन में रहती है फिर हमारे मन में प्रश्न आता है की क्या करू कैसे करू ?

मानसिक थकान -Top 10 Study tips

हम जब भी पढना चाहते है उस वक्त या तो हमारे ऊपर परीक्षा का दबाव होता है या फिर कोई मानसिक दबाव जिसके चलते हैं हम बार-बार मन ही मन चलने वाले अवसादो से घिरे रहते हैं

अतः एकाग्र चित्त होकर पढ़ने के लिए सबसे पहले हमें हमारे मानसिक रूप से चल रहे अवसाद का निराकरण करना चाहिए क्योंकि इसके चलते न तो हम पढ़ सकते हैं और नहीं जबरदस्ती पढ़ा हुआ हमें याद रह पाएगा ।

यह एक सामान्य सी घटना है मानसिक थकान का एक प्रमुख कारण यह भी होता है कि हम कई बार किसी निजी जीवन में घटित होने वाली घटना का बार-बार स्मरण करते हैं यह मानव स्वभाव है इसके चलते भी हमारे पढ़ने के प्रति मन काम नहीं करता है

क्योंकि दिमाग में चलने वाले अवसाद या कोई वजह हमें हमारी पढ़ने वाली किताब के प्रति एकाग्रचित्त होकर पढ़ने से रोकती रहती है इसलिए मानसिक थकान के कारण हम पढ़ाई में मन नहीं लगा पाते हैं इसलिए पढ़ते ही हमें नींद आने की जबकि आना शुरू हो जाती है

2.शारीरिक थकान

बहुत सी बार बच्चों को या प्रतियोगी परीक्षार्थियों को ऐसे कई अरुचिकर पाठो से गुजरना होता है जिनका वास्तविक जीवन में कोई लेना देना नहीं होता है लेकिन परीक्षा की दृष्टि से हमें उन पाठकों को पढ़ना ही होता है क्योंकि उन्हें हमें परीक्षा में लिखना है या फिर ऐसे उपन्यास या वृत को जो हमारी मनोवृति ओ को शांति नहीं पहुंचाते ऐसे पाठो को हमें पढ़ना पड़ता है। अतः हम शुरुआत में जब कभी हमें ऐसे विषयों से गुजर ना हो जो हमारी सोच से परे हैं या हमें जल्दी से समझ नहीं आएंगे उन्हें हमें बाद के लिए रख देना चाहिए

शारीरिक थकान सारी थकान से तात्पर्य है कि रोजमर्रा की जिंदगी में हम शारीरिक रूप से बहुत मेहनत करते हैं चाहे लंबी दूरी तक सफर करना हो या फिर मांसपेशियों के द्वारा किया गया कोई शारीरिक कार्य इससे हमें थकान महसूस होती है और ऐसा कार्य करने के बाद जब हम किताब लेकर बैठे हैं तो हमें तुरंत नींद आने लगती है

यदि आप थकान के बाद की कोशिश करते हैं तो तुरंत नींद आ जाती है इसलिए जब कभी हम पढ़े तो हमें किसी प्रकार का शारीरिक कार्य करने से बचना चाहिए।

विश्राम में बाधा

इसके चलते हमें जब भी हम किताब ओपन करते हैं तो हमें थकान महसूस होती है और नींद आने लगती है प्रमुख कारण है कि देर रात तक जगने से नियमित में ली जाने वाली 6 से 8 घंटे की नींद पूरी नहीं हो पाती इसके चलते भी हमें किताब पढ़ते वक्त नींद आना शुरू हो जाती है अगर आपके साथ ऐसा है तो नियमित रूप से 6 से 8 घंटे की नींद ले और अपनी आंखों और मानसिक स्थिति को स्वस्थ बनाए रखें

भी नींद आने का प्रमुख कारण होता है क्योंकि आधुनिक इंटरनेट के युग में हम दैनिक जीवन में सोशल मीडिया से अधिक जुड़े हुए हैं

दोस्तों ऐसे हजारो कारण हो सकते है जिनकी वजह से हमको नींद आती है परन्तु सबसे बड़ी बात है उपाय की तो आइये हम प्रमुख उपायों की बात कर लेते है –

हमें पता भी नहीं चलता कि कब मोबाइल फोन या स्मार्टफोन देखते देखते हमारी आंखों को थकान महसूस हो गई। बहुत से प्रतियोगिता में शामिल होने वाले अभ्यर्थी स्मार्टफोन की मदद से अध्ययन करते हैं यह कुछ हद तक तो सही है परंतु किताब की अपेक्षा इस तरह से अध्ययन करना अधिक आंखों को थकान देना वाला होता है।

Top 10 Study tips
solutions- Top 10 Study tips

1 . सबसे सर्वोत्तम उपाए यह है की हम पढ़ने की धीरे धीरे आदत बनाये एकदम से दस घंटो की पढ़ाई हम नहीं कर सकते |

2 . अपने मन में उठने वाले प्र्तेक सवाल को नोट करते रहे ।

3 . हमेशा लिख कर पढ़े क्युकी पढ़ाई का सीधा सा नियम है किसी भी चीज को हम जितनी बार लिखेंगे वह हमें अच्छे से याद होगी ।

4 . एक निश्चित टाइमt टेबल के हिसाब से पढ़े ।

5 . जो विषय समझ से परे है उनको किसी बी की मदद से पढ़े ।

6 . पानी की बोतल साथ में लेकर बैठे बिच बिच में पानी पिटे रहे ।

7 . अपने आप से सवाल करे क्या में पड़ने के लिए तैयार हु अगर जवाब न आता है तो एक काम करे पहले थोड़ा सा कुछ खा ले ।

8 . कुछ बुद्धिमान लोग फैक्ट्स के साथ चीजों को चित्रों में यद् करते है यानि आप अपने मन में उस पढ़ी हुई चीज का फोटो खींचने का काम करे ।

9 . पढ़े जाने वाले भाग को छोटे छोटे टुकड़ो में बाटे इससे आपको आसानी से याद रह पायेगा ।

10 . पढ़ाई के एक निश्चित अंतराल के बाद गैप दे इससे आपका दिमाग तरोताजा फील करेगा ।

दोस्तों , हो सकता है मेरे द्वारा दी गयी जानकारी आपके लिए पूरी तरह से उपुक्त न हो फिर भी यह आपके पढ़ाई के दौरान मन में आने वाले ख्यालो को जरूर दूर करेगी ।

धन्यवाद ,

best study plan, study with smart gadgets and latest educational news please comment below us

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *